-->

Tu pyaar hai kisi aur ka Lyrics in Hindi

Tu pyaar hai kisi aur ka Lyrics by Kumar Sanu. तू प्यार है किसी और का song sung by Kumar Sanu and Anuradha MPaudwal,  From Movie Dil Hia Ke Manta Nahi. Its Music Composed by Nadeem Shravan and writen by Sameer.


Song Tu pyar hai kisi aur ka
Singer Kumar Sanu
Music Nadeem-Shravan
Lyrics Sameer
Movie Dil Hai Ke Manta Nahin


Tu pyaar hai kisi aur ka Lyrics Hindi


तू प्यार है किसी और का, 

तुझे चाहता कोई और है

तू प्यार है किसी और का, 

तुझे चाहता कोई और है


तू पसन्द है किसी और की

तू पसन्द है किसी और की

तुझे मांगता कोई और है


तू प्यार है किसी और का

तुझे चाहता कोई और है


कौन अपना है, क्या बेगाना है

क्या हक़ीक़त है, क्या फ़साना है

कौन अपना है, क्या बेगाना है


क्या हक़ीक़त है, क्या फ़साना है

ये ज़माने में किसने जाना है

ये ज़माने में किसने जाना है


तू नज़र में है किसी और की

तुझे देखता कोई और है

तू नज़र में है किसी और की


तुझे देखता कोई और है

तू पसन्द है किसी और की

तुझे मांगता कोई और है


तू प्यार है किसी और का

तुझे चाहता कोई और है


प्यार में अक्सर ऐसा होता है

कोई हँसता है, कोई रोता है

प्यार में अक्सर ऐसा होता है


कोई हँसता है, कोई रोता है

कोई पाता है, कोई खोता है

कोई पाता है, कोई खोता है


तू जान है किसी और की

तुझे जानता कोई और है

तू जान है किसी और की


तुझे जानता कोई और है

तू पसन्द है किसी और की

तुझे मांगता कोई और है


तू प्यार है किसी और का

तुझे चाहता कोई और है

सोचती हूँ मैं, चुप रहूँ कैसे

दर्द दिल का ये, मैं सहूँ कैसे


सोचती हूँ मैं, चुप रहूँ कैसे

दर्द दिल का ये, मैं सहूँ कैसे

कशमकश में हूँ, ये कहूँ कैसे

कशमकश में हूँ, ये कहूँ कैसे


मेरा हमसफ़र बस एक तू

नहीं दूसरा कोई और है

मेरा हमसफ़र बस एक तू

नहीं दूसरा कोई और है


तू पसन्द है किसी और की

तुझे मांगता कोई और है

तू प्यार है किसी और का

तुझे चाहता कोई और है


Tu pyaar hai kisi aur ka Lyrics


Tu pyaar hai kisi aur ka

Tujhe chahata koyi aur hai

Tu pyaar hai kisi aur ka

Tujhe chahata koyi aur hai


Tu pasand hai kisi aur ki

Tu pasand hai kisi aur ki

Tujhe maangta koi aur hai

Tu pyar hai kisi aur ka

Tujhe chahata koyi aur hai


Kaun apna hai, kya beghana hai

Kya haqikat hai, kya fasaana hai

Kaun apna hai, kya beghana hai

Kya haqikat hai, kya fasaana hai

Ye zamaane mein kisne jaana hai

Ye zamaane mein kisne jaana hai


Tu nazar mein hai kisi aur ki

Tujhe dekhta koyi aur hai

Tu nazar mein hai kisi aur ki

Tujhe dekhta koyi aur hai

Tu pasand hai kisi aur ki

Tujhe maangta koyi aur hai


Tu pyar hai kisi aur ka

Tujhe chahata koyi aur hai


Pyar mein aksar aisa hota hai

Koyi hasta hai, koyi rota hai

Pyar mein aksar aisa hota hai

Koyi hasta hai, koyi rota hai

Koyi paata hai, koyi khota hai

Koyi paata hai, koyi khota hai


Tu jaan hai kisi aur ki

Tujhe jaanta koi aur hai

Tu jaan hai kisi aur ki

Tujhe jaanta koi aur hai

Tu pasand hai kisi aur ki

Tujhe maangta koyi aur hai

Tu pyaar hai kisi aur ka

Tujhe chahata koyi aur hai


Hmm.. aa.. aa..

Sochti hun main chup rahun kaise

Dard dil ka ye main sahun kaise

Sochti hun main chup rahun kaise

Dard dil ka ye main sahun kaise

Kashmakash mein hun, yeh kahun kaise

Kashmakash mein hun, yeh kahun kaise


Mera humsafar bas ek tu

Nahi dusra koyi aur hai

Mera humsafar bas ek tu

Nahi dusra koyi aur hai


Tu pasand hai kisi aur ki

Tujhe maangta koyi aur hai

Tu pyar hai kisi aur ka

Tujhe chahata koyi aur hai


Related Posts