-->

नाग देवता आरती हिंदी Naag Devta Aarti Hindi

 Naag Devta Aarti Hindi  नाग देवता कुल देवता जी की आरती, नागपंचमी के दिन नाग देवता को प्रसन करने के लिए इस आरती को गया जाता है. महाभारत की पौराणिक कथा अनुसार ऋषि कश्यप की पत्नी कुद्रू नाग देवताओं की माँ है और ऋषि कश्यप नागों के पिता हैं.


नाग देवता की आरती हिंदी में


आरती कीजे श्री नाग देवता की

भूमि का भार वहनकर्ता की

उग्र रूप है तुम्हारा देवा भक्त

सभी करते है सेवा॥


मनोकामना पूरण करते

तन-मन से जो सेवा करते

आरती कीजे श्री नागदेवता की 

भूमि का भार वहनकर्ता की॥


भक्तो के संकट हारी की

आरती कीजे श्री नागदेवता की

आरती कीजे श्री नाग देवता की

भूमि का भार वहनकर्ता की॥


महादेव के गले की शोभा

ग्राम देवता मै है पूजा

श्ररेत वर्ण है तुम्हारी धव्जा॥


दास ऊकार पर रहती

क्रपा सहसत्रफनधारी की

आरती कीजे श्री नागदेवता की

भूमि का भार वहनकर्ता की॥


आरती कीजे श्री नागदेवता की

भूमि का भार वहनकर्ता की॥


Naag Devta Aarti


Related Posts