Ghut rahi Bhole Teri Bhang Sone Ke Lote Mein

Ghut rahi Bhole Teri Bhang Sone Ke Lote Mein

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे में

भोले तेरी भांग पीने गनपत जी भी आये

गनपत जी भी आये संग रिधि सीधी लाये,

हमे भी पिला दो भोले भांग सोने के लोटे में

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे में

भोले तेरी भांग पीने ब्रह्मा जी भी आये

ब्रम्हा जी भी आये संग सावित्री को लाये

हमे भी पिला दो भोले भांग सोने के लोटे में

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे में

भोले तेरे भांग पीने विष्णु जी भी आये

विष्णु जी भी आये संग लक्ष्मी जी को लाये

हमे भी पिला दो भोले भांग सोने के लोटे में

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे में

 घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे मे

सोने के लोटे मे चांदी के लोटे मे

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे मे

भांग पीने भोले भ्रमा जी आए 

भ्रमा जी आए संग विष्णु को लाए

हमे भी पिला दो थोड़ी भांग सोने के लोटे मे

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे मे

भांग पीने भोले रामा  जी आए 

रामा जी आए संग लक्ष्मण को लाए

हमे भी पिला दो थोड़ी भांग सोने के लोटे मे

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे मे

भांग पीने भोले कान्हा जी आए 

कान्हा जी आए संग दाऊ को लाए

हमे भी पिला दो थोड़ी भांग सोने के लोटे मे

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे मे

भांग पीने भोले सतगुरु  जी आए 

सतगुरु जी आए सारी संगत को लाए

हमे भी पिला दो थोड़ी भांग सोने के लोटे मे

घुट रही भोले तेरी भांग सोने के लोटे मे

Ghut rahi Bhole Teri Bhang Sone Ke Lote Mein

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post