Murli Yaad Ati Hai Sun Kanha Sun Lyrics

 मुरली याद आती है सुन कान्हा सुन Krishna Bhajan Lyrics

Murli Yaad Ati Hai Sun Kanha Sun Lyrics

ये तेरी रस भरी मुरली मेरे मन को तडपाती है
वो मुरली याद आती है सुन कान्हा सुन

सुन कान्हा सुन मुरली ना बजा
तुम्हारी याद में कान्हा मै दिन दिन भटकती हूँ

जो आई रात तैरन को मै मछली सी तडपती हूँ
ये तेरी सांवरी सूरत मेरे मन को तडपाती है

वो सूरत याद आती है सुन कान्हा सुन
सुन कान्हा सुन वो मुरली याद आती है

सुना है आपने मथुरा में पापी कंस को मारा
बचाए देव की वसुदेव दुलारा नन्द के लाला

बचायी लाज द्रोपद की घटी ना पांच गज साडी
वो साड़ी याद आती है वो सूरत याद आती है

ये तेरी रस भरी मुरली मेरे मन को लुभाती है
वो मुरली याद आती है सुन कान्हा सुन

सुन कान्हा सुन मुरली ना बजा
ओ मुरली याद आती है वो मुरली याद आती है

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post