Darash Pane Ko Ji Chahata Hai Lyrics

 दर्शन पाने को जी चाहता है Krishna Bhajan Lyrics

Darash Pane Ko Ji Chahata Hai Lyrics

तेरा दर्शन पाने को जी चाहता है
खुदी को मिटाने का जी चाहता है

पिला दो हमें श्याम मस्ती के प्याले
मस्ती में आने को जी चाहता है

तेरा दर्शन पाने को जी चाहता है
खुदी को मिटाने का जी चाहता है

दुनिया है मेरे श्याम नज़र का धोखा
इसे ठुकराने को जी चाहता है

तेरा दर्शन पाने को जी चाहता है
खुदी को मिटाने का जी चाहता है

उठे श्याम तेरी मोहब्बत का दरिया
मेरा डूब जाने को जी चाहता है

तेरा दर्शन पाने को जी चाहता है
खुदी को मिटाने का जी चाहता है

जुदाई तुम्हारी सहे श्याम कैसे
गले से लगाने को जी चाहता है

तेरा दर्शन पाने को जी चाहता है
खुदी को मिटाने का जी चाहता है

आँखों में आंसू भरे श्याम मेरे
जान लुटाने को जी चाहता है

तेरा दर्शन पाने को जी चाहता है
खुदी को मिटाने का जी चाहता है

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post