Prabhu Ji Mere Awgun Chit Na Dharo lyrics

 प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो Krishan Bhajan Lyrics

Prabhu Ji Mere Awgun Chit Na Dharo lyrics

प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो
समदर्शी प्रभु नाम तिहारो, चाहो तो पार करो

एक लोहा पूजा मे राखत, एक घर बधिक परो
सो दुविधा पारस नहीं देखत, कंचन करत खरो

प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो
समदर्शी प्रभु नाम तिहारो, चाहो तो पार करो

एक नदिया एक नाल कहावत, मैलो नीर भरो
जब मिलिके दोऊ एक बरन भये, सुरसरी नाम परो

प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो
समदर्शी प्रभु नाम तिहारो, चाहो तो पार करो

एक माया एक ब्रह्म कहावत, सुर श्याम झगरो
अब की बेर मुझे पार उतारो, नही पन जात तरो

प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो
समदर्शी प्रभु नाम तिहारो, चाहो तो पार करो

प्रभु मेरे अवगुण चित ना धरो Video

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post