साईं बाबा को दिल में बसाऊ Sai Baba Ko Dil Mein Basaun

Sai Baba Ko Dil Mein Basaun

साईं बाबा को दिल में बसाऊ


 साईं बाबा को दिल में बसाऊ लिरिक्स

होटो पे सबके है मेरे 

साईं का तराना 

चौखट पे साईं बाबा के 

झुकता है जमाना 


ब्रम्हांड नायक सद्गुरु 

मेरे साईं बाबा का 

कोई बना है भक्त और 

है कोई दीवाना 


साई बाबा को दिल में बसाऊ

माला साई की मै जपती जाऊ 

उनके चरणों में सर को झुकाऊ

माला साई की मै जपती जाऊ 


साई बाबा का फ़रमान है 

सब का मालिक निगेहबान है 

साई से मेरी पहचान है 


मुझपे साईं का अहसान है 

साईं बाबा को चादर चधाऊ 

माला साई की मै जपती जाऊ 


उनके चरणों में सर को झुकाऊ

माला साई की मै जपती जाऊ 


मै तो साईं की दीवानी हु 

वो है  शम्मा मै परवानी हु 

कहती है दुनिया पागल मुझे 


मै तो साई की मस्तानी हु

साईं बाबा की धुनी रमाऊ 

माला साई की मै जपती जाऊ 


उनके चरणों में सर को झुकाऊ

माला साई की मै जपती जाऊ 


साईं तू ही है दाता मेरा 

मै लगाता हु दर का फेरा 

हम पर कर दो आज करम 


नाम लेता है बस ये तेरा 

तेरा गुणगान जग को सुनाऊ

माला साई की मै जपती जाऊ 


उनके चरणों में सर को झुकाऊ

माला साई की मै जपती जाऊ 

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post