बाबुल का ये घर बहना Babul Ka Yeh Ghar Behana Lyrics

 

Babul Ka Yeh Ghar Behana Lyrics Hindi

बाबुल का ये घर बहना
कुछ दिन का ठिकाना है

बाबुल का ये घर गोरी
कुछ दिन का ठिकाना है

बनके दुल्हन एक दिन
तुझे पिया घर जाना है

बनके दुल्हन एक दिन
तुझे पिया घर जाना है

बाबुल का ये घर गोरी
कुछ दिन का ठिकाना है

बाबुल तेरे बगिया की
मैं तो वो कली हूँ रे
हो ओ बाबुल तेरे बगिया की

मैं तो वो कली हूँ रे
छोड़ तेरी बगिया मुझे
घर पिया का सजाना है

क्यों छोड़ तेरी बगिया मुझे
घर पिया का सजाना है

बेटी घर बाबुल के किसी
और की अमानत है

बेटी घर बाबुल के किसी
और की अमानत है
दस्तूर दुनिया का, हम सबको निभाना है

अरे दस्तूर दुनिया का
हम सबको निभाना है

बाबुल का ये घर गोरी
कुछ दिन का ठिकाना है

मैया तेरे आँचल की मैं हूँ एक गुड़िया रे
मैया तेरे आँचल की मैं हूँ कैसी गुड़िया रे

तूने मुझे जनम दिया तेरा घर क्यों बेगाना है
मैया तूने मुझे जनम दिया तेरा घर क्यों बेगाना है

मैया पे क्या बीत रही बहना तू ये क्या जाने
मैया पे क्या बीत रही बहना तू ये क्या जाने
कलेजे के टुकड़े को रो रो के भुलाना है

कलेजे के टुकड़े को रो रो के भुलाना है
बाबुल का ये घर गोरी
कुछ दिन का ठिकाना है

भैया तेरे अँगना की, मैं हूँ ऐसी चिड़िया रे
हो भैया तेरे अँगना की, मैं हूँ ऐसी चिड़िया रे
रात भर बसेरा है, सुबह उड़ जाना है
रात भर बसेरा है, सुबह उड़ जाना है

यादें तेरे बचपन की, हम सबको रुलाएगी
यादें तेरे बचपन की, हम सबको रुलाएगी
फिर भी तेरी डोली को, कांधा तो लगाना है

बेहना तेरी डोली को, कांधा तो लगाना है
बाबुल का ये घर गोरी
कुछ दिन का ठिकाना है

Babul Ka Yeh Ghar Behana Lyrics

Baabul ka yeh ghar behna
Kuchh din ka thikana hai

Baabul ka yeh ghar gori
Kuchh din ka thikana hai

Banke dulhan ek din
Tujhe piya ghar jana hai

Banke dulhan ek din
Tujhe piya ghar jana hai

Baabul ka yeh ghar behna
Kuchh din ka thikana hai

Baabul tere bagiya ki
Main toh wo kali hun re

Ho o baabul tere bagiya ki
Main toh wo kali hun re
Chhod teri bagiya mujhe
Ghar piya ka sajana hai

Kyun chhod teri bagiya mujhe
Ghar piya ka sajana hai

Beti ghar baabul ke kisi
Aur ki amanat hai

Beti ghar baabul ke kisi
Aur ki amanat hai
Dastoor duniya ka
Hum sab ko nibhana hai

Maiya tere aanchal ki
Main toh ek gudiya re
Maiya tere aanchal ki
Main toh ek gudiya re

Tune mujhe janam diya
Tera ghar kyun begana hai

Maiya tune mujhe janam diya
Tera ghar kyun begana hai

Maiya pe kya beet rahi
Behna tu ye kya jaane
Maiya pe kya beet rahi

Behna tu ye kya jaane
Kaleje ke tukde ko
Ro ro ke bhulana hai

Bhaiya tere angana ki
Main kaise chidiya re
Ho bhaiya tere angana ki

Main kaise chidiya re
Raat bhar basera hai
Subah udd jaana hai

Raat bhar basera hai
Subah udd jaana hai

Yaaden tere bachpan ki
Hum sabko rulayengi
Yaaden tere bachpan ki

Ham sab ko rulayengi
Phir bhi teri doli ko
Kaandha to lagana hai

Bahena teri doli ko
Kaandha to lagana hai

Baabul ka yeh ghar gori
Kuchh din ka thikana hai

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post