बाला जी की आरती Bala Ji Ki Aarti Lyrics

 Bala Ji Ki Aarti Lyrics Hindi  बाला जी के प्यारे भगतो आपके हमने बाला जी की आरती, लिखी हुई आरती  शेयर की है इसे हर मंगल वॉर को पढ़ना चाहिए 

 

Bala Ji Ki Aarti Lyrics

 जय जय श्री बालाजी महाराज अनोखी थारी झांकी

अनोखी थारी झांकी निराली थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

जय जय श्री बालाजी महाराज अनोखी थारी झांकी

अनोखी थारी झांकी निराली थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

थारे सिर पे मुकुट वाराजे ,कानो मै कुंडल साजे

बाबा गल वैजयंती माल अनोखी थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

थारे ननौ मे सुरमा साजे,माथे पे तिलक विराजे

बाबा मुख मे नागर पान अनोखी थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

थारे अंग पे चोला साजे,उपर से बरक विराजे

बाबा रोम-रोम मे राम अनोखी थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

थारे हाथ मे सोटा साजे,दुजे मे गदा विराजे

बाबा ह्रदय विराजे राम अनोखी थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

थारे भोग लाडुवा का लागै,पेड़ा को भोग भी लागै।

बाबा चुरमा कि बौछार अनोखी थारी झांकी।

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

जब लक्ष्मण मुर्छित पाये संजीवनी बुटी लाये।

बाबा लाये पहाड़ उठाये अनोखी थारी झांकी।

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

सालासर मे जोत विराजे थारी पड़ी नौपता बाजै

बाबा भक्त करे जयकार अनोखी थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

थारे दूर से भक्त आवे चरणा मे शीश नवावै

बाबा संकट दिज्यो टाल अनोखी थारी झांकी

जय जय श्री बालाजी महाराज

 

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post