Mohan se Dil kyun lagaya hai

मोहन से दिल क्यूँ लगाया है लिरिक्स 

मोहन से दिल क्यूँ लगाया है, 

यह मैं जानू या वो जाने ।

छलिया से दिल क्यूँ लगाया है, 

यह मैं जानू या वो जाने ॥

 

हर बात निराली है उसकी, 

कर बात में है इक टेडापन  ।

टेड़े पर दिल क्यूँ आया है, 

यह मैं जानू या वो जाने ॥

 

जितना दिल ने तुझे याद किया, 

उतना जग ने बदनाम किया ।

बदनामी का फल क्या पाया हैं, 

यह मैं जानू या वो जाने ॥

 

तेरे दिल ने दिल दीवाना किया, 

मुझे इस जग से बेगाना किया ।

मैंने क्या खोया क्या पाया हैं, 

यह मैं जानू या वो जाने ॥

 

मिलता भी है वो मिलता भी नहीं, 

नजरो से मेरी हटता भी नहीं ।

यह कैसा जादू चलाया है, 

यह मैं जानू या वो जाने ॥ 

mohan se dil kyun lagaya lyrics

mohan se dil kyoon lagaaya hai, 

yah main jaanoo ya vo jaane .

 

 chhaliya se dil kyoon lagaaya hai,

 yah main jaanoo ya vo jaane .

 

 har baat niraalee hai usakee,

 kar baat mein hai ik tedaapan . 

 

tede par dil kyoon aaya hai, 

yah main jaanoo ya vo jaane .

 

 jitana dil ne tujhe yaad kiya,

 utana jag ne badanaam kiya .

 

 badanaamee ka phal kya paaya hain,

 yah main jaanoo ya vo jaane . 

 

tere dil ne dil deevaana kiya,

 mujhe is jag se begaana kiya .

 

 mainne kya khoya kya paaya hain,

 yah main jaanoo ya vo jaane . 

 

milata bhee hai vo milata bhee nahin,

 najaro se meree hatata bhee nahin . 

 

yah kaisa jaadoo chalaaya hai,

 yah main jaanoo ya vo jaane .

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post