यमुना के तट पे आना Yamuna Ke Tat Pe Aana

Yamuna Ke Tat Pe Aana Lyrics

यमुना  के  तट  पे  आना 

यमुना  के  तट  पे  आना 

मुरली  की  धुन  सुनाना 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

 

यमुना  के  तट  पे  आना 

मुरली  की  धुन  सुनना 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

 

धोखा  दिया  है  तुमने 

दिल  सबका  मोह  लिया  है 

तेरी  एक  झलक  को  मोहन 

तड़पे  ये  दिल  दीवाना 

 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

यमुना  के  तट  पे  आना 

 

हमे  याद  आ  रही  है 

मुरली  की  मधुर  ताने 

क्या  भूल  तुम  गए  हो 

यमुना  के  तट  पे  आना 

 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

यमुना  के  तट  पे  आना 

 

कहते  थे  लोग  हमसे 

विश्वाश  अब  हुआ  है 

छलिया  हो  तुम  तो  कान्हा 

छलने  का  था  बहाना 

 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

यमुना  के  तट  पे  आना 

 

उम्मीद  के  सहारे 

है  राधेश्याम  जिन्दा 

एक  बार  फिर  से  मोहन 

ब्रज  धाम  चलके  आना 

 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

यमुना  के  तट  पे  आना 

 

यमुना  के  तट  पे  आना 

मुरली  की  धुन  सुनना 

हमसे  ना  भुला  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

 

यमुन  के  तट  पे  आना 

मुरली  की  धुन  सुनना 

हमसे  न  भूल  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराण 

 

यमुन  के  तट  पे  आना 

मुरली  की  धुन  सुनना 

हमसे  न  भूल  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना  

 

धोखा    दिया    है  तुमने 

दिल  सबक  मोह  लिए  है 

तेरी  एक  झलक  को  मोहन 

तड़पे  ये  दिल  दीवाना   

 

हमसे  न  भूल  जाये 

तेरा   श्याम  मुस्कुराना 

यमुन  के  तट  पे  आना 

 

हमे  याद  आ  रही  है 

मुरली  की  मधुर  ताने 

की  भूल  तुम  गए  हो 

यमुन  के  तट  पे  आना   

 

हमसे  न  भूल  जाये 

तेरा   श्याम  मुस्कुराना 

यमुन  के  तट  पे  आना 

 

कहते थे लोग  हमसे 

विश्वाश  अब  हुआ   है 

छलिया  हो  तुम  तो  कान्हा 

छलने  का   था   बहना   

 

हमसे  न  भुला    जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

यमुना  के  तट  पे  आना 

 

उम्मीद  के  सहारे 

है   राधेश्याम  जिन्दा 

एक  बार  फिर  से  मोहन 

ब्रज  धाम  चलके  आना  

 

हमसे  न  भूल  जाये 

तेरा  श्याम  मुस्कुराना 

यमुन  के  तट  पे  आना 

 

यमुना    के  तट  पे  आना 

मुरली  की  धुन  सुनना 

हमसे  न  भुला   जाये 

तेरा    श्याम  मुस्कुराना 

 

यमुना के तट पे आना Video

 
Post a Comment (0)
Previous Post Next Post