हारे का सहारा है बाबा श्याम हमारा Hare Ka Sahara Hai Bawa Shyam Hamara

Hare Ka Sahara Hai Bawa Shyam Hamara Lyrics

हारे का सहारा है  बाबा श्याम हमारा है

 हारे का सहारा बाबा श्याम

हारे का सहारा है  बाबा श्याम हमारा है


हारे के सहारे ने , दिया सदा सहारा है

हारे का सहारा है बाबा श्याम हमारा है


हार गया हूं में  क्यों देर लगाता है

खेल तेरे न्यारे  कोई समझ ना पाता है


मूरख हूँ अज्ञानी  कोई सूझे ना चारा है

हारे का सहारा है बाबा श्याम हमारा है


लाज बचाना तो  बाबा दस्तूर है तेरा

इतना क्यों दास यहाँ, मजबूर है तेरा


हार के आया में  श्याम सेवक तुम्हारा है

हारे का सहारा है बाबा श्याम हमारा है


बहुत हुआ अब तो  आके सम्भालो जरा

नाम की जो महिमा है  इसको बचा लो जरा


मेरा नही कोई जग में  किया सबने किनारा है

हारे का सहारा है बाबा श्याम हमारा है


श्याम तेरी चौखट का  रस्ता बनालो मुझे

भक्तो के चरणों की  रज माथे लगा दो मुझे


मोहन कौशिक ऐसे ही  श्याम लाखो को तारा है

हारे का सहारा है बाबा श्याम हमारा है

 

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post