लाडला बेटा Laadla Beta Swati Mehul

Laadla Beta - My Son Lyrics

Singer - Swasti Mehul

Lyrics - Swasti Mehul

Music - Swasti Mehul

लाडला  बेटा 

 वो  नटखट  है  नादान  भी  है 

मासूम  है  तो  शैतान  भी  है  


नन्हा  राजा  करे  शरारत 

मुस्काता  घर  सारा  है 


लाडला  बेटा  सबकी  

आँखों  का  तारा  है  


ओह  लाडला  बेटा  

सबकी  आँखों  का  तारा  है 


तेरे  आने  से  छायी , 

आंगन  में  खुशियां 


पुत्र  रतन  से  माँ  की  गोद  भरी 

नन्हे  नन्हे  हाथ  उसके 

नन्हे  नन्हे  पैर   हैं  


पापा   के   कंधे   बैठे 

घूमे   हर   घडी  


छोटी   छोटी   ज़िद्द   पर   मचले  

रोये  ऐसा   की  न  सम्भले 


पलकों  पे  बिठाये  सब  रखें 

वो  सबका  राज  दुलारा  है 


लाडला  बेटा  सबकी  

आँखों  का  तारा  है  


चलना  रोज़  सिखाते  पापा 

बोली  खुली  तो  माँ   बोला  


बस्ता    टाँगे   छोटे   छोटे   

क़दमों   से 

पड़ने  लिखने  फिर  वो  दौड़ा 


वो  सुने  कहानी  दादी  से 

माँ  की  लोरी  सुनकर  सोता 


करे  रोज़  नयी  फरमाइश  तो  

डांटें  तो  चुपके  है  रोटा 


संस्कारो  में  पला  बड़ा 

बेटा  मेरा  सहारा  है 


बेटे  की  कहानी  स्वस्ति  कहे  

कुल  का  ये  दीपक  प्यारा  है  


लाडला  बेटा  सबकी  

आँखों  का  तारा  है 


सपनो  को  सच  करने  निकला 

माँ   की  हिम्मत  को  साथ  लिए 


ज़िम्मेदारी  की  शिकार  चढ़ा 

पापा  का  अनुभव  हाथ  लिए 


वो  बस  जाता  है  दूजे  शहर  

फिर  कभी  कभी  ही  आता  है 


बेटी  ही  नहीं  घर  चोरहटी 

 बेटा  भी  दूर  हो  जाता  है 


रौनक  थी  जिस  आंगन  में  कभी 

वो  भी  सूना  हो  जाता  है 


बेटी  ही  नहीं  घर  चोरहटी 

 बेटा  भी  दूर  हो  जाता  है 


रौनक  थी  जिस  आंगन  में  कभी 

वो  भी  सूना  हो  जाता  है 

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post