राम नाम से जगमग है Ram Naam Se Jagmag Hai

  Ram Naam Se Jagmag Hai Lyrics

राम नाम से जगमग है

वो कितने धनवान धनी जो

राम के दर्शन होते है


वो कितने धनवान धनि जो

राम के दर्शन होते है


हाँ सीता के राम रमैया

नैया पार लगते हैं


नाम से तेरे काम हो मेरा

हो जीवन से दूर अँधेरा

ओ मैं हूँ तुमसे तुमसे जग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है


पड़े चरण तेरे मेरे घर घर

चारों धाम सा जगमग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है

राम नाम से जगमग है जगमग है


कौशल्या की ममता भी तो

राम नाम पर बरसो रोई


कौशल्या की ममता भी तो

राम नाम पर बरसो रोई


चौदह बरस जो जागी रातें

उस ममता की आँख ना सोई


रघुकुल रीत सदा चली आई

प्राण जाई पर वचन ना जाई

मैं हूँ तुमसे तुमसे जग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है


पड़े चरण तेरे मेरे घर घर

चारों धाम सा जगमग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है

राम नाम से जगमग है


सबरी खिलायी बैर मन से

अहिल्या कर गई प्रभु चरण से


ओ सबरी खिलायी बैर मन से

अहिल्या कर गई प्रभु चरण से


तुलसीदास अमर पद गाये

वाल्मिकी हरि कथा सुनायें

मैं हूँ तुमसे तुमसे जग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है


पड़े चरण तेरे मेरे घर घर

चारों धाम सा जगमग है


मेरे घर का कोना कोना

राम नाम से जगमग है


राम नाम से जगमग है जगमग है

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post