ये चमक ये दमक Ye Chamak Ye Damak

 Ye Chamak Ye Damak Lyrics

ये चमक ये दमक

ये चमक ये दमक फुलवन में महक

ये चमक ये दमक फुलवन में महक


सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 

इठलाता पवन सूरज  की किरण


बगियन में बहार तुम्हीं से है

बगियन में बहार तुम्हीं से है


मेरे सुख दुःख की रखते हो खबर

मेरे सर पे साया तुम्हारा है


मेरे कश्ती के खेवन हारा

मेरा बड़ा पार तुम्ही  से है


ये चमक ये दमक फुलवन में महक

सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 


मैं तो भूल गयी कुछ भी कहना

तेरी प्रीत में रोवत है नैना  


राग राग में बसी है प्रीत तेरी 

अखियां में खुमार तुम्ही से है


ये चमक ये दमक फुलवन में महक

सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 


जितना है दिया दाता तूने 

उतनी मेरी ओकात नहीं


ये कृपा है मेरे राघव की

ये भगति भाव तुम्ही से है


ये चमक ये दमक फुलवन में महक

सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 


जा तुन भी वहीँ जा जिस दर पर

जहां सबकी बिगड़ी बनती है


बिगड़े की तक़दीर बनाना 

ये सारा खेल तुम्ही से है 


ये चमक ये दमक फुलवन में महक

सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 


जब मौज पे आयी हो लहरें

कतरे को समंदर का डाला


ये उनकी प्रीत पुराणी है

खाली और भरना उन्ही से है


ये चमक ये दमक फुलवन में महक

सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 


मेरा कोई नहीं है दुनिया में

ये कोल करार तुम्ही से है


मैं कहाँ जाकर सौदा बेचूं 

मेरा सब व्यापर तुम्ही से है


ये चमक ये दमक फुलवन में महक

सब कुछ सरकार तुम्हीं से है 


Post a Comment (0)
Previous Post Next Post